Home / Antarvasna Hot Sex Story - Adult Sex Stories / नादान पति के सामने अफ्रीकन बॉयफ्रेंड से चुदाई- 5

नादान पति के सामने अफ्रीकन बॉयफ्रेंड से चुदाई- 5

मैंने अपने यार को कहा कि वो मुझे मेरे पति की मौजूदगी में चोदे. जब मैं मोटे काले लंड से चुदूं तो मेरा पति उसकी कमरे में सामने बैठ कर अपनी बीवी की चुदाई देखे.

दोस्तो, मेरे ब्वॉयफ्रेंड थॉमस के सामने मेरे पति रोहन की मौजूदगी मुझे बेहद रोमांचित कर रही थी.

अब थॉमस ने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और चुदाई की तैयारी करने लगा.

अब आगे:

मैंने थॉमस का शॉर्ट्स उतार कर सोफे के पास फेंक दिया और थॉमस के लंड को झट से जल्दी से मुँह में लेकर चूसने लगी. मैंने थॉमस के पूरे लंड को अन्दर तक ले लिया था.

मैंने थॉमस का लंड 15-20 मिनट तक चूसा और उसका लंड पूरी तरह से मेरी चुदाई करने के लिए तैयार हो गया था.

मैंने थॉमस को बेड पर सीधा लेटा दिया और खुद भी थॉमस के लंड के उपर आ गयी. मैंने उसका लंड अपने हाथ में लिया और अपनी चुत में सैट करने लगी. धीरे धीरे मैं उसके लंड पर बैठने लगी और कुछ ही पल में थॉमस का पूरा लंड मेरी चुत की पंखुड़ियों को खोलता हुआ अन्दर तक आ गया था.

अब मैं थॉमस के लंड पर उछलने लगी और आहें भरने लगी- आह्ह आह्ह आह … थॉमस फक मी आह बेबी चोदो मुझे आह.

थॉमस का पूरा लंड मेरी चुत में था और मैं थॉमस के लंड पर जोरों से उछल रही थी. थॉमस को भी मेरी चुत चुदाई में बहुत मजा आ रहा था. वो आगे से मेरे मम्मों के निप्पलों को पकड़ कर खींच रहा था. जिससे मैं और ज्यादा कामुक हो रही थी. मेरे चूचे हवा में जोरों से उछल रहे थे.

मैं अपनी चुत को 25-30 मिनट चुदवा कर चरम सीमा पर आ गयी थी और मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी. कुछ ही पलो में मैं थॉमस के लंड पर झड़ने लगी.

मुझे पता था थॉमस अभी नहीं झड़ा है … इसलिए मैं उसके लंड पर लगातार उछलती रही.

कुछ मिनट चोदने के बाद थॉमस भी झड़ने वाला था. मैंने अपनी स्पीड और तेज कर दी और थॉमस भी मेरी चुत के अन्दर ही झड़ने लगा था.

थॉमस ने मेरी चुत को पूरा अपने पानी से भर दिया था. जब मैं थॉमस के लंड से उतरी, तो मेरी चुत से थॉमस के पानी की लार टपक रही थी.

मैं और थॉमस बेड पर ही लेट गए.

बीस मिनट बाद थॉमस उठ कर मेरी चुत के पास आ गया. उसने अपने होंठ मेरी चुत पर रख दिए और मेरी चुत को चूसने लगा.

मैं उस समय बहुत जोर जोर से आहें भरने लगी. थॉमस अपनी पूरी जीभ को मेरी चुत के अन्दर डाल कर हिला रहा था. मैं थॉमस का सर पकड़ कर अपनी चुत में दबा रही थी.

इससे थॉमस को भी जोश चढ़ रहा था. वो भी मेरी चुत को चाटे जा रहा था और अन्दर से कुरेद रहा था.

थॉमस ने मेरी चुत को 10-15 मिनट चूसा. उसके बाद मैंने उसे दुबारा बेड पर लेटा दिया और उसके लंड के पास आ गयी. मैंने उसके लंड को वापिस मुँह में लिया और उसे चूस चूस कर 5-10 मिनट में दुबारा से मेरी चुत को चोदने के लिए खड़ा कर दिया.

अब थॉमस ने मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरी दोनों टांगों को अपने कंधों पर रख लिया. उसने अपना लंड मेरी चुत पर सैट किया और धक्का लगा कर अपने लंड को आधा अन्दर कर दिया.

मैं थोड़ा सा चीखी भी … पर थॉमस ने एक दो और झटके मार कर अपना पूरा लंड मेरी चुत के अन्दर डाल दिया. फिर उसने मुझे चोदना शुरू कर दिया.

लंड चलने से मेरी भी मादक सीत्कारें निकलना शुरू हो गयी थीं. थॉमस अपना लंड मेरी चुत में पेले जा रहा था और मैं मजे ले रही थी- आह थॉमस आह फक मी थॉमस बेबी आह.

थॉमस भी अपने पूरे जोश में मुझे अपने लंड से चोद रहा था और मुझे मजा दे रहा था. मैं भी आहें भरते हुए थॉमस के लंड से मजा ले रही थी.

रोहन भी मुझे खिड़की से देख रहे थे, पर अब मुझे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला था.

थॉमस ने अपने मोटे लंड से लगातार 30-35 मिनट मेरी चुत की जमकर चुदाई की.

मैं तो पहले ही झड़ चुकी थी और अब थॉमस झड़ने वाला था. थॉमस के लंड को चुत से बाहर निकाला और उसे मुँह में ले लिया. मैं लंड चूसने लगी. कोई 5-7 मिनट थॉमस का पूरा लंड मैंने अच्छे से चूसा. उसके बाद थॉमस ने अपना लंड मेरे मुँह से बाहर निकाल लिया और बेड पर खड़ा हो गया. मैं भी उसके लंड के नीचे घुटनों के बल बैठ गयी.

थॉमस अपने लंड को हिलाने लगा और कुछ ही देर बाद थॉमस का लंड रस बाहर आने वाला था. मैंने अपनी जीभ निकाल कर थॉमस के लंड के पास निकाल दी थी.

थॉमस जब झड़ने लगा तो उसने अपना माल मेरी जीभ पर निकाल दिया और मैंने भी उसे बड़े ही स्वाद लेकर पी लिया. फिर मैंने थॉमस का लंड पर लगा हुआ पानी भी चाट लिया.

मैं और थॉमस बेड पर लेट गए. हम दोनों कुछ देर बेड पर ही लेटे रहे.

उसके बाद थॉमस ने मुझसे बोला- अब तुम डॉगी पोजीशन में आ जाओ.

मुझे पता लग गया कि थॉमस अब मेरी गांड मारना चाहता है. मैंने बेड की साइड वाली दराज से एक डॉटेड (दानेदार) कंडोम निकाला और थॉमस के लंड को पहना दिया ताकि थॉमस का लंड मेरी गांड में जाकर गन्दा ना हो.

थॉमस ने अपना लंड मेरे मुँह में दिया और मैंने कंडोम के फ्लेवर का स्वाद लेते हुए उसे चूसा. लंड चूसने के बाद अब मैं डॉगी पोजीशन में आ गयी थी. थॉमस ने अपने लंड मेरी गांड के छेद पर रखा और एक धक्का देकर लंड को अन्दर पेल दिया.

मैं एक बार चीखी, फिर थॉमस ने अपने लंड को धीरे धीरे पूरा अन्दर डाल दिया. मैं थॉमस की कुतिया बन चुकी थी. थॉमस ने अब धीरे धीरे मेरी गांड में धक्के मारने शुरू कर दिए थे.

मैं भी रूम में चीखने लगी थी- आह आह थॉमस फ़क मी.

मेरी कराहने की आवाज सुन कर थॉमस को भी जोश आने लगा था और वो भी मेरी गांड पर थप्पड़ मारते हुए मुझे और जोर से चोदने लगा.

आधा घंटे तक गांड मरवाने के बाद अब मेरी गांड में दर्द होने लगा था. कंडोम पर बने हुए डॉट्स मेरी गांड में अब जलन कर रहे थे … क्योंकि थॉमस का लंड बहुत मोटा था और मेरी गांड का छेद छोटा था. इसलिए उसका लंड मेरी गांड में बहुत टाइट चल रहा था.

अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो था. उधर थॉमस मुझे लगातार बिना रुके चोदे जा रहा था. मैं जोर से चीखने लगी थी.

‘आह आह थॉमस बेबी धीरे धीरे..’

उसने लगभग चालीस मिनट तक मेरी गांड की बहुत दर्दनाक चुदाई की. उसके बाद थॉमस झड़ने वाला था. उसने मुझे बेड पर लेटा दिया और खुद मेरे मम्मों के ऊपर आ कर बैठ गया.

उसके वजन से मेरे मम्मों में दर्द हो रहा था. थॉमस ने लंड पर से कंडोम को हटाया और लंड हिलाने लगा. कुछ देर हिलाने के बाद थॉमस भी झड़ने के लिए रेडी था. मैंने अपनी जीभ बाहर निकाल ली. उसने अपना पानी मेरे चेहरे पर और मेरी जीभ पर गिरा दिया.

अब हम दोनों बहुत थक चुके थे. थॉमस बेड पर लेट गया और मैं थॉमस के सीने के ऊपर लेट गयी. मैंने थॉमस का लंड पकड़ कर अपनी चुत में डाल लिया. फिर थॉमस और मैं सो गए.

जब मैं शाम को उठी तो 7 बज चुके थे. मुझे पता ही नहीं चला रोहन कब तक मुझे चुदते हुए देख कर गए हैं … क्योंकि मैं उस समय सिर्फ थॉमस के मोटे लंड से चुदने में मदहोश थी.

मैं थॉमस की बांहों में थी.

मैंने थॉमस को जगाया. थॉमस भी उठ गया. उससे चुदाई के बाद मेरा पूरा बदन फ्रेश हो चुका था और मेरे शरीर मैं एक अलग ही ऊर्जा थी.

थॉमस और मैं लेटे हुए बात कर रहे थे.

मैंने थॉमस से कहा- थॉमस तुम्हें याद है ना … कल रात जब तुम मुझे चोद रहे थे तो रोहन हमें खिड़की के पीछे से चुपके चुपके देख रहे थे … और आज दिन मैं भी जब तुम मुझे ऊपर ले आए, तब भी रोहन हमें देख रहे थे. मैं चाहती हूँ कि आज रात जब तुम मुझे चोदो, तो रोहन भी हमारे साथ हो. रोहन मेरी चुदाई तुमसे होते हुए देखे. मैं रोहन के चेहरे के भाव देखना चाहती हूँ … इसलिए आज तुम्हें रोहन को रूम में लाना है. कैसे भी करके उसे सामने लाओ.

थॉमस ने कहा- तुम फ़िक्र मत करो बेबी.
मैंने थॉमस से कहा- चलो अब हम फ्रेश हो जाते हैं और नीचे चलते हैं. मुझे भूख भी लगी है.
थॉमस बोले- हां चलो.

फिर थॉमस और मैं फ्रेश हुए.

मैंने अभी सिर्फ फुल बॉडी वाला एक पिंक गाउन डाला हुआ था. अन्दर मैंने ब्रा पैंटी नहीं पहनी थी. अन्दर से मैं बिल्कुल नंगी थी. मेरे मम्मों के निप्पल मेरी नाइटी में अलग से उठ हुए नजर आ रहे थे.

थॉमस भी रेडी हो चुका था. वो भी टी-शर्ट और शॉर्ट्स में था. हम लोग रेडी होकर नीचे आ गए. रोहन भी नीचे ही थे.

मैंने रोहन से कहा- मैं सबके लिए होटल से खाना मंगवा लेती हूँ.
रोहन बोले- हां ठीक है मंगवा लो. वैसे भी अब लॉकडाउन में खाना घर पर भेजने की छूट हो गई है.

मैंने होटल में फ़ोन किया और खाने का आर्डर दे दिया. हम लोगों साथ ही लिविंग एरिया में बैठे थे.

मैंने बोला- जब तक खाना नहीं आता मैं सबके लिए जब तक ड्रिंक्स ले आती हूँ.
रोहन और थॉमस बोले- हां यह अच्छा रहेगा.

मैं किचन में से हम सबके लिए ड्रिंक्स ले आयी. मैंने रोहन और थॉमस को ड्रिंक्स दी और मैं थॉमस के सामने ही रोहन की बांहों में आकर बैठ गयी.

थॉमस बोला- अरे अंजलि, तुम वहां रोहन की गोद में क्या कर रही हो? तुम्हें मेरे पास होना चाहिए.
मैंने बोला- मैं अभी थोड़ी देर में आपके पास आकर बैठ जाउंगी.

यह मैंने इसलिए किया ताकि रोहन को लगे कि सब नार्मल है. अंजलि का बर्ताव मेरे साथ नहीं बदला है, पर मैं तो सच में ही थॉमस की गोद में बैठना चाहती थी.
थॉमस बोला- नहीं, तुम यहीं आओ.

फिर मैं रोहन की गोद से उठकर थॉमस की गोद में बैठ गयी. रोहन और थॉमस अच्छे से बातें कर रहे थे. हम लोग व्हिस्की पीते हुए बात करने लगे.

हम लोग ड्रिंक्स पी रहे थे. थॉमस नाटक करते हुए बोला- अंजलि तुम्हें पता है कल रात जब मैं तुम्हें चोद रहा था, तो रोहन खिड़की के पीछे से तुम्हें मुझसे चुदते हुए देख रहा था … और आज दिन में भी ऐसा ही कर रहा था.
मैं भी नाटक करते हुए चौंक कर बोली- आह रोहन … क्या आप सच में ऐसा कर रहे थे?
रोहन बोले- अरे नहीं नहीं … ऐसा कुछ नहीं है. वो तो बस गलती से मेरी नजर पड़ गयी थी, इसलिए मैं देखने लगा था.

मैंने शरमाते हुए अपनी गर्दन नीचे कर ली.

थॉमस मेरे बालों को मेरे कान के पीछे करते हुए मुझसे बोला- तुम्हें पता है आज रात मैं तुम्हें रोहन के सामने चोदूंगा?
यह बात सुनकर रोहन बोले- अरे सर, इसकी कोई जरूरत नहीं है.
मैं भी नाटक करते हुए बोली- हां सर, इसकी कोई जरूरत नहीं है.

थॉमस बोला- नहीं अब तो यही होगा … वरना मैं वापिस जा रहा हूँ.
रोहन बोले- अच्छा सर आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है. मैं इसके लिए तैयार हूँ.
मैं नाटक करते हुए बोली- पर सर … रोहन के सामने मैं कैसे करूंगी?
थॉमस बोला- कल रात जब तुम मुझसे चुद रही थीं … तो तुम्हें पता था कि रोहन हमें देख रहा है. और तुम कल रात से ही मेरे लंड से मजे ले रही हो, तो अब क्या शर्माना!

मैंने शरमाते हुए अपनी गर्दन नीचे झुका ली, पर मैंने हां नहीं बोली.
रोहन ने बोला- रुकिए, एक मिनट मैं अंजलि से बात करता हूँ.

वो मुझे अकेले में ले गए.
मैं रोहन से बोली- रोहन आप राज़ी क्यों हुए? मैं आपके सामने कैसे करूंगी … मुझे तो पीछे से करने में ही बहुत अजीब लग रहा है … तो आपके सामने कैसे?
रोहन बोले- देखो अंजलि, मुझे पता है कि तुम्हें भी थॉमस के लंड से चुदने में बहुत मजा आ रहा है.

मैंने शरमाते हुए अपनी नजरें रोहन से मिलाईं.

रोहन बोले- मुझे अब कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो तुम्हें मेरे सामने चोदे या मेरे पीछे से … क्योंकि वो तुम्हें अब तो चोद ही चुका है. इसलिए अब तुम बस उसे कैसे भी खुश रखने का सोचो क्योंकि अब तो सब कुछ हो गया है. इसलिए तुम चिंता मत करो. जब तुम थॉमस से चुदोगी, तो यह मत सोचना कि मैं वहीं रूम में हूँ. बस तुम कैसे भी थॉमस को खुश करना … और हां मैं तुमसे पहले भी प्यार करता था और अभी भी करता हूँ. इसलिए तुम चिंता मत करो.

रोहन मुझे वापिस लिविंग रूम में ले आए और मैं थॉमस की गोद में जाकर बैठ गयी.

अगली बार मैं थॉमस के मोटे लंड से अपने पति के सामने अपनी चुत चुदाई का मजा लूंगी.

आप मेरी इस चुदाई की कहानी को लेकर क्या सोचते हैं, प्लीज़ मेल करना न भूलिएगा.

Check Also

गर्लफ्रेंड को झाड़ियों में ले जाकर चुदाई की

एक शादी में एक लड़की मुझे अच्छी लगी, वो भी मुझसे नैन लड़ा रही थी. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *