Home / Antarvasna Hot Sex Story - Adult Sex Stories / जवान बीवी की चूत चुदाई दोस्त से होते देखने का मजा-1

जवान बीवी की चूत चुदाई दोस्त से होते देखने का मजा-1

दोस्तो, कैसे हैं आप!
आपके मेल बताते हैं कि आपको मेरी कहानियाँ बहुत पसंद आती हैं.. एक पाठक तो लिखते हैं कि पढ़ते समय ऐसा लगता है जैसे सब कुछ हमारे सामने ही घटित हो रहा है। कहानी में पाठक डूब जाए यही कहानीकार का उद्देश्य होता है।

आज की कहानी भोपाल से मेरे एक अजीज दोस्त रवि और उनकी पत्नी सपना की है। रवि एक मार्केटिंग कंपनी का एरिया हेड है, उम्र है 28 साल उसकी बीवी सपना 27 साल की है.. इनकी शादी हुए डेढ़ साल बीत गया है, लव मैरिज है इनकी! परिवार वाले ज्यादा वास्ता नहीं रखते हैं तो दोनों अपने मैं ही मस्त हैं।

सपना की एक कजन है रिया, जो सपना की ही उम्र की है उसकी शादी इन्दौर हुई है अभी एक साल पहले। उसकी और सपना की अच्छी टयूनिंग है… सपना बहुत मस्त और बेबाक है… या कहिये उसका अल्हड़पन अभी भी है।
बस यही रवि को भा गया।
रवि बहुत सेक्सी और आशिक मिजाज है, उसका और सपना का तो शादी से पहले ही गहरा सम्बन्ध था। चूंकि दोनों अकेले अकेले भोपाल में ही रहते थे तो प्यार और बाद में यह तय हो जाने पर की शादी करनी ही है, उनके बीच शारीरिक सम्बन्ध भी हो गए थे।

अब शादी के बाद बच्चों के लिए तो दोनों ने तय कर लिया था कि अभी दो साल और रुकेंगे, पर सेक्स के लिए तो दोनों ही दो पल रुकने को तैयार नहीं थे। रवि को तो सपना का ऐसा नशा था कि चाहे लेक का किनारा हो या घर का टेरेस, उसका हाथ कभी भी सपना के मम्मों तक पहुँच ही जाता और सपना भी उसके होंठ से होंठ मिला कर खड़ी हो जाती।
अपने दोस्तों की पार्टी में दोनों की बेशर्मी मशहूर थी।

रवि सपना एक कोठी के ऊपर की मंजिल पर किराये पर रहते थे। मकान मालिक एक बुजुर्ग दंपत्ति थे जो महीने में 10-15 दिन तो बाहर ही रहते थे अतः नीचे का लॉन भी इन्हें रोमांस के लिए मिल जाता।
रवि को ज्यादा कपड़ों से उलझन होती थी तो बस ऑफिस से आकर उसे बियर और बीवी चाहिए थी। बियर का गिलास भरा हुआ और बीवी के कपड़े उतारे हुए।
सपना रवि के घर होने पर बस फ्रॉक या शार्ट स्कर्ट ही पहन पाती थी।

सेक्स में दोनों को ही थ्रिल पसंद था। रात को कितनी बार ही दोनों एक शाल या चादर में नंगे बदन चिपटे ही टेरेस पर खडे होकर कॉफ़ी या ड्रिंक लेते थे।
सपना अपने अल्हड़पन के चलते अचानक ही शाल खींच कर भाग जाती और रवि उसके पीछे नंगा ही भागता। चूंकि बाहर अँधेरा होता तो किसी और के देखने का डर नहीं होता था।

लेकिन पिछले कुछ दिनों से सपना महसूस कर रही थी कि रवि का दोस्त आशु सपना से व्हाट्सएप्प पर ज्यादा नजदीकी बढ़ा रहा है। आशु वैसे रवि की उम्र का ही था और उसकी शादी भी इनकी शादी के तुरंत बाद ही हुई थी, पर उसकी बीवी गवर्नमेंट जॉब में होने के कारण केवल शनिवार और इतवार को ही भोपाल आती थी।
आशु भी अच्छे जॉब में था और स्मार्ट और सलीकेदार था। वो भी इनकी कॉलोनी में ही थोड़ी दूरी पर रहता था।

व्हाट्सएप्प पर सपना और आशु की चैट और मैसेजिंग जोरों पर चलते ही अब कुछ हदें पार कर रही थी। मसलन आशु उसे रोमांटिक इमेज भेज देता, कभी फ्लावर्स बंच की इमेज भेजता, कभी ‘मिस यू’ का मेसेज।
जब सपना भी कुछ ऐसा ही जवाब देने लगी तो आशु की हिम्मत और बढ़ गई और एक दिन उसने ‘लिप टू लिप’ किस की इमेज सेंड कर दी।
सपना को समझ नहीं आया की वो क्या करे.. जवाब दे, उसे डांट दे या चुप मार जाए।

सपना चुप मार गई और रवि का नम्बर ब्लॉक कर दिया। रवि ने बहुत ट्राई किया.. दूसरे नम्बर से फ़ोन कॉल करीं पर सपना ने फ़ोन नहीं उठाया।
रवि ने दसियों सॉरी के मेसेज भेजे, पर सपना ने चुप्पी मार ली।

दो दिन से रवि ने भी महसूस किया कि सपना कुछ उखड़ी हुई है। जब उसने जोर देकर सपना से पूछा तो उसने पूरा किस्सा रवि को बता दिया और अपनी गलती मानी कि उसने आशु को लिफ्ट क्यों दी।

रवि हंस पड़ा और बड़ी बेबाकी से उसने कहा- इसमें ना तो तुम्हारी गलती है और ना ही आशु की! एक लिमिट में रहकर फ़्लर्ट करने से लाइफ में मस्ती ही रहती है और हर्ज कुछ नहीं! और आशु तो सभ्य और सलीकेदार है।

सपना को कुछ जंची नहीं बात… वैसे तो वो रवि से ज्यादा सेक्सी और मस्त थी पर दूसरे आदमी के साथ फ़्लर्ट, यह उसके लिए नई चीज थी, वो चुप रही..

अगले दिन रवि ने उससे पूछा- क्या आशु से बात हुई थी?
तो सपना ने मना कर दिया।

रवि ने अब उसे उकसाना शुरू किया और रात को सेक्स के दौरान बार बार आशु का जिक्र किया।
सेक्स के दौरान रवि ने बार बार यही कहा कि एक दिन आशु को बुला लेते हैं, वो हमारी और तुम्हार पोर्न मूवी बना दे.. बाद में देखा करेंगे।
यह सुन कर सपना भी गर्म हो गई और धमाकेदार सेक्स हुआ उनके बीच उस रात।

अब रवि को जिद चढ़ गई थी कि सपना आशु को लिफ्ट दे। सपना ने रवि से यह वादा लिया कि अगर सपना कुछ लिफ्ट आशु को दे भी दे तो रवि कभी शिकायत या शक नहीं करेगा और कभी आशु को यह नहीं एहसास कराएगा कि उसे ये सब मालूम है।
रवि के ऑफिस जाने के एक घंटे बाद आशु का भेजा एक बुके सपना को मिला जिसमें लगे कार्ड में आशु ने सॉरी तो बोला ही था साथ ही रिक्वेस्ट की थी फोन पर बात करने की।

सपना ने आशु को व्हाट्सएप्प पर अनब्लाक किया और फ्लावर्स के लिए थैंक्स का मेसेज भेज दिया।
रवि का तुरंत ही थैंक्स और सॉरी के मेसेज आये।

सपना ने अब उसे फोन किया और बोला- जो हुआ उसे भूल जाओ और ज्यादा बदमाशी नहीं किया करो..
उसने उसे रात को डिनर अपने घर पर लेने के लिए भी इन्वाइट भी कर लिया।

सपना ने हाथ की हाथ रवि को भी बता दिया।

शाम को रवि 7 बजे करीब आया.. सपना ने स्लीवेलेस लॉन्ग फ्रॉक, हाई हील शूज के साथ पहनी हुई थी और बालों का स्टायल भी उसने इतना पश्चिमी फ़ैशन का बनाया था कि वो बिल्कुल जापानी गुड़िया लग रही थी।

उसे देखकर रवि ने तो कहा- आज तो आशु उसकी सोच सोच कर रात भर मुठ मारेगा।
सपना बोली- तुम्हें हर समय यही सूझता है, वो शरीफ आदमी है।
इस पर रवि बोला- चलो, उसकी शराफत टेस्ट करते हैं.. जब वो आये तो कह देना कि मैं वाश रूम में हूँ और जरा गले लग कर उसे वेलकम कर लेना, पता लग जायेगा वो कितना शरीफ है।

रवि सही में ही वाश रूम में चला गया।

थोड़ी देर में डोर बेल बजी, सपना का दिल जोर से धड़क रहा था, उसने रवि को आवाज देकर पूछा- तुम्हें क्या देर है?
रवि बोला- मुझे थोड़ी देर लगेगी, तुम आशु को रिसीव कर लो और ड्राइंग रूम में बिठा लो।

सपना ने दरवाजा खोला, आशु रेड टीशर्ट और क्रीम ट्राउजर में बहुत स्मार्ट लग रहा था। उसके हाथ में एक गुलाब के फूलों का बुके था। सपना ने मुस्कुराते ही आशु से हाथ मिलाया और उसे लेकर अंदर ड्राइंग रूम में आ गई।

आशु ने पूछा- रवि कहाँ है?
सपना ने उसे बताया कि वो वाशरूम में है, आता ही होगा।

आशु ने सपना के दोनों हाथ अपने हाथ में ले लिये और संजीदगी से सॉरी बोला और कहा- मेरा इरादा तुम्हारा का दिल दुखाने का नहीं था। मैं तो तुम्हारा एक अच्छा दोस्त बनना चाहता हूँ।

इस पर सपना एक कदम आगे बढ़ी, उसके नजदीक आकर उसको हल्के से किस किया, एक हाथ आगे बढ़ाया और बोली- फ्रेंड्स..
आशु ने तुरंत उसका हाथ थाम लिया और कहा- फ्रेंड्स!
आशु ने सपना को और नजदीक किया अपने दोनों हाथों से सपना के गाल पकड़कर उसके माथे पर किस कर लिया।
यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

तभी सपना ने देखा कि रवि दरवाजे के पीछे खड़ा है, उसने अपने को संभाला और आशु को बिठा कर बोली- मैं रवि को बुलाती हूँ..

पहले ड्रिंक्स और फिर डिनर..
सपना और रवि ने आशु की कंपनी को खूब एन्जॉय किया।

रात 11 बजे करीब आशु जाने को हुआ तो रवि जानबूझ कर आगे आगे चलता हुआ तेजी से जीना उतर गया।
आशु और सपना पीछे पीछे आ रहे थे।
जीने के मोड़ पर आशु ने मुड़ कर सपना को डिनर के लिए थैंक्स बोला तो सपना ने भी डायलोग मार दिया कि फ्रेंड्स में नो थैंक्स नो सॉरी!
आशु मुस्कुरा कर पलटा और अबकी बार उसने सपना को दीवार से लगाकर उसके होंठों पर किस कर दिया उम्म्ह… अहह… हय… याह… जिसमें सपना ने भी उसका पूरा साथ दिया।

आशु को विदा कर के बेड पर जम कर धमाल हुआ उस रात! रवि ने यह तो साबित कर दिया कि आशु सीधा सादा नहीं है। सपना को भी आशु का किस गुदगुदा रहा था।
रवि ने जीने में आशु को किस करते देखा नहीं था, सपना ने उसे बताया भी नहीं।

अब अगले दिन से सपना और आशु की फोन कॉल्स का समय बढ़ता गया और बढ़ती गईं उनके ख्वाबों की दुनिया। सपना तो मानो अब आस्मां पर तैरती थी। दिन में उसे आशु का रोमांस खुश रखता और रात को रवि का रंगीला साथ!
रवि भी सपना को उकसाता रहता था, वो तो चाहता था की उसे फिर किसी दिन बुलाया जाए।

यह रवि ने सपना से वादा ले लिया था कि वो रवि की गैरमौजूदगी में आशु को कभी नहीं मिलेगी और सपना इस वादे को ईमानदारी से निभा भी रही थी।

Check Also

गर्लफ्रेंड को झाड़ियों में ले जाकर चुदाई की

एक शादी में एक लड़की मुझे अच्छी लगी, वो भी मुझसे नैन लड़ा रही थी. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *